LATEST:


Friday, January 14, 2011

100 नंबर पर चर्मरोग


पांव से छिटककर दूर
जब बजने लगे पायल
तो उकताकर
सौ नंबर पर डॉयल

मनुहार का अत्याचारी सच
बयां करने वाली
पुलिस थाने में
धूल खा रही फाइल
चर्मरोग का
इलाज बताएं न बताएं
इस बीमारी के
गलगला गए यथार्थ को
मुहरबंद जरूर करती हैं

1 comment:

  1. प्रिय,

    भारतीय ब्लॉग अग्रीगेटरों की दुर्दशा को देखते हुए, हमने एक ब्लॉग अग्रीगेटर बनाया है| आप अपना ब्लॉग सम्मिलित कर के इसके विकास में योगदान दें - धन्यवाद|

    अपना ब्लॉग, हिन्दी ब्लॉग अग्रीगेटर
    अपना खाता बनाएँ
    अपना ब्लॉग सम्मिलित करने के लिए यहाँ क्लिक करें

    ReplyDelete